गर्मी में ऐसे करें दूध का सेवन, जानें कुछ खास बातें

चिकित्सकोंं का कहना है कि खाने के एक घंटे बाद दूध पीने से बहुत-सी बीमारियों में राहत मिलती है।

भारतीय खान-पान में दूध का विशेष महत्त्व है। विभिन्न चिकित्सा पद्धतियों ने इसके गुणों के कारण इसे एक सम्पूर्ण आहार माना है। हमारे शरीर के संपूर्ण विकास के लिए जिन तत्वों की आवश्यकता होती है वे सभी दूध मेंप्रचुर मात्रा में मिलते हैं। शरीर के लिए इन सभी तत्त्वों की पूर्ति अकेला दूध ही करता है। सबसे अच्छी बात यह है कि बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक हर कोई इसे आसानी से पी और पचा सकता है। चिकित्सकोंं का कहना है कि खाने के एक घंटे बाद दूध पीने से बहुत-सी बीमारियों में राहत मिलती है।

गर्मी में दूध शक्कर मिलाकर गर्म करें। फिर ठंडा करने के बाद पाचन क्षमता के अनुसार ले सकते हैं। दूध और चावल की खीर बनाकर लेने से गर्मी में राहत मिलती है। ड्राइफ्रूट्स जैसे बादाम, काजू आदि मिलाकर भी दूध का सेवन किया जा सकता है। इस मौसम में दूध में पीपली, अदरक, सौंठ न मिलाएं, इससे शरीर में गर्मी बढ़ेगी। हृदय रोग या कैल्शियम संबंधी परेशानी में दूध को अर्जुन की छाल के साथ उबालकर क्षीरपाक बनाकर लें।

त्वचा पर निखार लाने के लिए भी दूध का इस्तेमाल किया जाता है। दूध की तासीर ठंडी होती है। इसलिए गर्मी का असर कम करने के लिए इस मौसम में ठंडा दूध पीना भी फायदेमंद है। एक्सपर्ट के अनुसार सुबह दूध पीने से बचना चाहिए। इससे बॉडी में एसिड का लेवल बढ़ता है, जिससे एसिडिटी हो सकती है।