स्वाद और खुशबू ही नहीं, सेहत के लिए भी फायदेमंद है गरम मसाले का इस्तेमाल, जानिए इसे घर पर बनाने का तरीका

मार्केट में उपलब्ध मसालें मिलावटी हो सकते हैं। साथ ही इन्हें बनाने में इस्तेमाल हुई सामग्री की गुणवत्ता की जानकारी हमें नहीं होती। इन सभी असुविधाओं से बचने के लिए क्यों न इस बार घर पर ही तैयार करें गर्म मसाला।

खाने में यदि गरम मसाला न पड़ा हो तो, आप चाहे कितनी भी कोशिश कर लें खाने का स्वाद फीका सा लगता है। गरम मसाला व्यंजनों में स्वाद और फ्लेवर ऐड करने के साथ ही कुछ स्वास्थ्य लाभ भी जोड़ता है। इसे बनाने में कई तरह के मसालों का इस्तेमाल होता है। इस तरह उन सभी के पोषक तत्व इस एक मसाले में मिल जाते हैं। लेकिन ऐसा बाज़ार के पैक्ड मसालों में नहीं होता। चुनने और पीसने तक उनमें कई तरह की लापरवाही का जोखित रहता है। तो चलिए इस बार खुद तैयार करते हैं ऑर्गेनिक गरम मसाला।

आजकल ज्यादातर लोग मसाले बाहर से ही खरीद कर काम चलाते हैं। पर मेरी मम्मी अब भी घर पर खड़े मसालों से खुद गरम मसाला तैयार करती हैं। इस मसाले की सुगंध न केवल बाजार के मसाले से अलग होती है, बल्कि कम मात्रा में भी यह व्यंजनों पर भरपूर स्वाद भर देता है।

इसकी वजह है बाजार में मौजूद गरम मसाले का मिलावटी होना। जिनका सेवन सेहत के लिए फायदेमंद होने की जगह सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए मेरी मम्मी हमेशा घर पर गरम मसले तैयार करती है। इसे बनाना बहुत आसान है। कभी कभार तो मैं भी इसे आराम से तैयार कर लेती हूं। तो चलिए जानते हैं घर पर किस तरह तैयार करना है गरम मसाला (How to prepare garam masala at home)। साथ ही जानेंगे इसका सेवन सेहत के लिए कैसे है फायदेमंद।

गरम मसाला बनाने के लिए आपको चाहिए (garam masala ingredients)

साबुत धनिया (coriander)
सौंफ के बीज (fennel seeds)
जीरा साबुत (cumin)
काली मिर्च साबुत (black paper)
दालचीनी (cinnamon)
जायफल (nutmeg)
तेज पत्ता (Bay leaf)
जावित्री (mace)
लौंग (clove)
चक्र फूल (star anise)
बड़ी इलायची (black cardamom)
छोटी इलायची (green cardamom)

स्वाद और खुशबू ही नहीं, सेहत के लिए भी फायदेमंद है गरम मसाले का इस्तेमाल, जानिए इसे घर पर बनाने का तरीका - काव्यांजलि - kavyanjali.in
स्वाद और खुशबू ही नहीं, सेहत के लिए भी फायदेमंद है गरम मसाले का इस्तेमाल, जानिए इसे घर पर बनाने का तरीका 1

यहां है घर पर गरम मसाला तैयार करने का स्टेप बाय स्टेप तरीका

सभी खड़े मसालों को एक बड़ी से प्लेट में निकाल लें। अब देखें कि कहीं इनमें किसी प्रकार की गन्दगी, कंकड़, इत्यादि तो नहीं हैं।

पुराने मसालों का इस्तेमाल न करें क्योंकि इनमे फंगी और कीड़े-मकौड़े लगने की सम्भावना अधिक होती है। वहीं नए मसालों को भी अच्छी तरह से जांच लेना जरुरी है।

फिर इन मसालों को धूप में कम से कम 2 दिनों तक अच्छी तरह सुखाएं। सनलाइट में सुखाने के बाद इसे मसाले के रूप में तैयार करने से पहले ड्राई रोस्ट कर लें।

ध्यान रहे कि मसालों को लाल नहीं करना है। हल्की आंच पर केवल 3 से 4 मिनट तक ही रोस्ट करना है। उसके बाद इन्हे कुछ देर ठंडा होने के लिए रख दें।

रोस्ट किये हुए इन मसालों में से जायफल निकाल लें और उसे अलग से कूट कर छोटे- छोटे टुकड़े कर लें।

फिर बाकी सभी खड़े मसाले एवं जायफल को ब्लेंडिंग जार में डालें और इन्हें एक साथ अच्छी तरह पीस लें।

जब मसालें पाउडर बन जाएं, तो इन्हें छननी से छानें और बचे हुए मसाले के टुकड़ों को दोबारा पीसें।

आपका गरम मसाला तैयार है, इसे किसी एयर टाइट जार में स्टोर करके रख लें।